1. होम
  2. >
  3. Infocus Detail
  4. >
  5. food-facts

व्यक्ति को घुटन होना

First Aid: Choking/ Blocked Airway by Famhealth

व्यक्ति को घुटन भोजन या अन्य वस्तुओं के गले में फस जाने से उपरी वायुमार्ग के बंद हो जाने के कारण हो सकती है, घुटन व्यक्ति को साँस लेने से रोकती है, इसकी वजह से व्यक्ति को खाँसी आ सकती है, पूर्णंतय ऊपरी वायुमार्ग के बंध हो जाने के कारण व्यक्ति की मृत्यु हो सकती है।

घुटन एक घातक अपातकालीन स्थिति है, जिसके होने पर उपस्थित व्यक्ति को तुरंत व तेजी से करवाई करनी चाहिये, क्योकि किसी घुटते हुवे व्यक्ति को बचने के लिए आपातकालीन चिकित्सा सेवा दल समय से नही पहुंच पाता है।

व्यक्तियों में अधिकतर घुटन तब होती है , जब व्यक्ति भोजन को चबाकर नहीं खाता है , और भोजन करते समय बात करने या हँसने से भोजन गलत नली में चला जाता है , यदि कोई व्यक्ति शराब या ड्रग्स का सेवन करता है, या कुछ बीमारियां जैसे पार्किंसंस रोग, सामान्य निगलने वाले तंत्र को धीमा करते है।

घुटन होने के लक्षण :

यदि कोई व्यक्ति घुट रहा है, तो आपको निम्नलिखित लक्षणो पर ध्यान देना चाहिए हैं :

  • व्यक्ति का खाँसना या गैगिंग करनाI
  • व्यक्ति के हाथ के संकेत और घबराहट ( कभी-कभी गले की ओर इशारा करते हुए)I
  • व्यक्ति को बात करने में अचानक परेशानी होना।
  • गला दबाना: घुटन से अपने आप होने वाली प्रतिक्रिया गले को एक हाथ या दोनों हाथों से पकड़ना है। यह अपने आप होने वाले घुटन के संकेत है , यह आपके आसपास के लोगों को बताने का एक तरीका है , कि आप घुट रहे हैं।
  • व्यक्ति को घरघराहट होना।
  • निगलनाI
  • टर्निंग ब्लू : सियानोसिस चेहरे, होंठ, नाखूनों की त्वचा का नीला हो जाना, देखा जा सकता है लेकिन, घुटन के अन्य लक्षण पहले दिखाई देंगे।
  • यदि एक शिशु घुट रहा है, तो उसके व्यवहार पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए, क्योकि शिशु को अपने आप होने वाले संकेत नहीं सिखाये जा सकते है।
  • सांस लेने में तकलीफ होना।
  • हल्के रोने की आवाज या हल्की खाँसी या दोनों का होना।

घुटने वाले व्यक्ति की मदद कैसे करे:

यदि आपको लग रहा है, की कोई व्यक्ति घुट रहा है , तो तुरंत आपातकालीन सहायता के लिए कॉल करें , ओर ध्यान रखे अस्पताल के आपातकालीन विभाग में एक घुटन से पीड़ित व्यक्ति को चलाने करने का प्रयास न करें।

व्यक्ति के घुटने पर क्या करना चाहिए :

  • यदि व्यक्ति खांसने की कोशिश कर रहा है तो उसे खांसने दे , उनसे पूछे की आप ठीक है, यदि व्यक्ति नीला रंग नहीं बदल रहा है और व्यक्ति बोलने में समर्थ है तो उनका आधा वायुमार्ग बाधित है, आप व्यक्ति के साथ रहे , उन्हें खांसने के लिए प्रोत्साहित करते रहे।
  • व्यक्ति को पीने के लिए कुछ भी न दें क्योंकि तरल पदार्थ हवा के निकलने का आवश्यक स्थान घेर सकता हैं।
  • यदि गले में फंसी सामग्री को अभी तक हटाया नहीं गया है, तो हेम्लिच तरीके का इस्तेमाल करें।

Heimlich maneuver steps

  • यदि घुटन से पीड़ित व्यक्ति घबरा रहा है, तो उसके पास जाये और उसकी हिम्मत बढ़ाये, और यदि आप हेम्लिच पैंतरेबाज़ी को जानते है तो हेम्लिच पैंतरेबाज़ी आरम्भ करे, और व्यक्ति से कहे की आप शांत रहे, और बातये गए निर्देशों का पालन करे। 
  • हेम्लिच पैंतरेबाज़ी के सफलतापूर्वक काम करने के लिए व्यक्ति को खड़ा करें यदि व्यक्ति डगमगा रहा है या घबरा रहा है तो आप व्यक्ति को सहारा दे सकते है।
  • हेम्लिच पैंतरेबाज़ी के अगले चरण को करने के लिए आप व्यक्ति के पीछे जाये। 
  • अब ध्यान से घुटने वाले व्यक्ति को गले से लगाए अब आप व्यक्ति के सीने के चारो ओर अपने हाथ रख कर सीने को मजबूती से पकड़कर गले से लगाये। ध्यान रहे पीड़ित के दोनों हाथ आप से दूर ओर ऊपर होने चाहिए। 
  • आप गले लगने के साथ अपने दोनों हाथो की मुट्ठी बंद रखे अब आप पीड़ित व्यक्ति को बंद मुट्ठी की तरह से जकड़े ध्यान रहे अपने दोनों हाथो के अंगूठे आपस में न टकराने दे , इन्हे बहार की ओर रखे , अपनी मुट्ठी को नाभि भाग से ऊपर की और रखे , सही स्थान ढूंढ़ने के लिए पीड़ित के कपड़ो को हटाने की जरूरत हो तो हटा दे , पीड़ित को घुट- घुट कर मरने से बचाने के लिए जो भी करने की जरूरत है वह किया जाना चाहिए। 
  • सही चक्र बनाने के लिए अपनी मुट्ठी को पकड़ ले, और अपनी पकड़ को मजबूत बनाये। 
  • अब जोर लगाना आरम्भ करे , अपनी बाहों को नजदीक से पकड़ें , एक हाथ की नजदीक से मजबूती से मुट्ठी बंद रखे है, एक गति में आवक और ऊपर धक्का दे। पीड़ित के वायुमार्ग को अवरुद्ध करने वाली वस्तु को हटाने के लिए आपको पीड़ित के पेट पर जोर डालना होगा, हर बार मजबूत होते हुए पांच बार जोर से दबाए । एक मजबूत जोर भी व्यक्ति के वायुमार्ग से हवा लाएगा , जिससे उन्हें खांसी होगी। इसे सही तरीके से करने के लिए, आपको इसकी गहराई तक जाना होगा, हालांकि इससे पीड़ित को चोट लग सकती है। आप इसकी चिंता मत करें ! जब वह एक बार फिर से सांस ले सकता है, तो वह हमेशा आपके मजबूत इरादे के लिए आभारी रहेगा। ऐसा तब तक करते रहें जब तक कि जिस वस्तु के कारण वे घुट रहे है , उसे हटाया न जा सके। 

  
यदि हेम्लिच पैंतरेबाज़ी सफल हो जाती है तो पीड़ित को होश में आने तक पकड़कर रखे, उन्हे नीचे बैठाए ओर तब तक न छोड़े जब तक वह सामान्य स्थित में न आ जाये ।
 

फर्स्ट एड पर अधिक पढ़ने के लिए, नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

https://famhealth.in/hi/infocus-detail/first-aid