1. होम
  2. >
  3. Infocus Detail
  4. >
  5. patient-care
  6. >
  7. section
  8. >
  9. Post Heart Surgeries Home...
Heart Rythym

व्यक्ति की हार्ट सर्जरी होने पर घरेलू देखभाल कैसे करें

Heart Rythym

The first phase of heart surgery recovery can last from 6 to 8 weeks. When you’re released from the hospital, you’ll get a set of instructions for post-surgery care. These will help you heal physically and feel better.

व्यक्ति की दिल की सर्जरी होने के बाद चीरे की देखभाल कैसे करे

दिल की सर्जरी के बाद चीरे की उचित देखभाल करने के लिए, निम्न बातों का ध्यान रखे है:

  • चीरे को साफ और सूखा रखेंI
  • रोजना ड्रेसिंग करेI
  • घाव को न रगड़े और न ही भिगोएंI
  • रबिंग अल्कोहल , हाइड्रोजन पेरोक्साइड या आयोडीन का उपयोग न करें, ये ऊतक को नुकसान पहुंचा सकते है, और घाव को धीमा कर सकते है।
  • ड्रेसिंग को फिर से करने से पहले एक साफ, ताजे तौलिये से चीरा को हवा दें या उसे सुखाएं।
  • स्वस्थ आहार खाएंI

संक्रमण के लक्षण दिखाई देने पर चिकित्सीय सलाह लें। यदि इसमें में निम्न स्थिति शामिल है:

  • चीरा से जल निकासी या बहाव में वृद्धि का होनाI
  • चीरा लाइन का खुलनाI
  • चीरे के चारों ओर लालिमा या गर्माहट का होनाI
  • Increased body temperature (greater than 38°C)
  • आपको यह भी सलाह लेनी चाहिए कि अगर आपको ऐसा लगता है कि उरोस्थि (ब्रेस्टबोन) स्थानांतरित हो गया है, या इसमें बदलाव के साथ दरारें हो।

दिल की सर्जरी होने के बाद दर्द से छुटकारा लें

सर्जरी के बाद कुछ मांसपेशी में या चीरे में असुविधा, खुजली, जकड़न या चीरा के साथ सुन्नता की परेशानी हो जाती है। हालांकि, दर्द सर्जरी से पहले के अनुभव से अलग होगा, इनके लिए दर्द निवारक दवाएं पीड़ित ले सकते है।

हार्ट बायपास सर्जरी के लिए, छाती की चीरे के आसपास की तुलना में पैरों में अधिक दर्द हो सकता है यदि डॉक्टर द्वारा टांग की नसों को ग्राफ्ट किया गया हो तो यह चलना, दैनिक गतिविधियों और समय, पैर की तकलीफ और कठोरता को कम करने में मदद करेगा।

The Don’ts.

  • Don’t stand in one place longer than 15 minutes.
  • Don’t lift things that weigh more than 10 pounds.
  • Don’t push or pull heavy things.

Walk every day. Follow the guidelines the doctor or cardiac rehabilitation specialist gives you. Unless you’ve been told not to, you can climb stairs.

हार्ट सर्जरी के बाद रोगी के द्वारा की जाने वाली गतिविधि

पहले छह से आठ सप्ताह के लिए, रोगी निम्नलिखित दिशा निर्देशों का पालन करे :

  • धीरे-धीरे अपनी गतिविधि बढ़ाएं। रोगी घरेलू काम कर सकते है, लेकिन रोगी को 15 मिनट से अधिक समय तक एक जगह खड़े रहना नहीं चाहिएI
  • दिन में कई बार सीढ़ियों से ऊपर और नीचे चढ़ना , खासकर जब मरीज पहली बार घर आता तो इस प्रकार सीढ़ियों से ऊपर और नीचे न चढ़े, गतिविधियों को व्यवस्थित करने का प्रयास करें ताकि रोगी सुबह में और ऊपर जाए और रात के समय नीचे आएI

हार्ट सर्जरी होने के बाद खाने के किये उपयुक्त आहार

एक स्वस्थ आहार स्वास्थ रहने की प्रक्रिया में मदद करेगा। सर्जरी के बाद पहली बार में भूख कम लगना आम बात है। यदि यह मामला है , तो कम भोजन को लगातार भोजन खाने की कोशिश करें। पहले कुछ हफ्तों के भीतर भूख वापस आ जानी चाहिए। यदि ऐसा नहीं होता है , तो चिकित्सीय सलाह लें।

दिल की सर्जरी के बाद रोगी की भावनाएं

मरीजों का दुखी होना आम बात है। इन भावनाओं को पहले कुछ हफ्तों के बाद दूर कर देना चाहिए। यदि वे नहीं कर पा रहे हैं , तो चिकित्सा सलाह लें। इससे रोगी को मदद मिल सकती है:

  • हर दिन तैयार हो जाओI
  • रोजाना टहलेंI
  • शौक और सामाजिक गतिविधियों को फिर से शुरू करेंI
  • बात करें। पहले 15 मिनट की यात्रा को सीमित करें, फिर उन्हें इस आधार पर बढ़ाएं कि रोगी कैसा महसूस करता है।
  • Get a good night’s sleep
  • एक सहायता समूह या कार्डियक पुनर्वास कार्यक्रम में शामिल होंI

आराम करो और सो जाओ

कई लोगों को हार्ट सर्जरी के बाद सोने में परेशानी होती है। आपको कुछ महीनों के भीतर सामान्य नींद के पैटर्न पर वापस जाना चाहिए।

यदि दर्द आपको बनाए रखता है, तो सोने से लगभग आधे घंटे पहले दवा लें। तकियों को व्यवस्थित करें ताकि आप आरामदायक स्थिति में रह सकें।

You’ll probably need to rest after activity, but try not to take a lot of naps during the day.

शाम को, चॉकलेट, कॉफी, चाय, और कुछ सोडा सहित कैफीन से बचें।

Settle into a bedtime routine, perhaps listening to relaxing music. Your body will learn these cues mean it’s time to snooze.

अगर नींद की कमी आपके मूड या व्यवहार के प्रति सही नहीं करते है, तो अपने डॉक्टर को बुलाएं।

रोगी की देखभाल पर अधिक पढ़ने के लिए,नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

रोगी की देखभाल

सामग्री सौजन्य: पोर्टिया