1. होम
  2. >
  3. Infocus Detail
  4. >
  5. गर्भावस्था
  6. >
  7. Section
  8. >
  9. Feeding Your Bundle of...
Pexels Photo 973970

अपने शिशु को खिलाना-पिलाना

Pexels Photo 973970

जैसे ही आप ख़ुशी के अपने शिशु का स्वागत करतीं हैं, आपको शिशु को फीड करने (अर्थात् दूध पिलाने) के बारे में निर्णय करना होगा, स्तनपान या बोतल द्वारा। अपने शिशु को प्यार से दूध पिलाने का मन करना चाहिए, न कि कर्तव्य की भावना से।

कृपया यह तय करने के लिए पर्याप्त विचार करें कि आप किस विधि से शिशु को दूध पिलाना चाहेंगी। यदि आप बाद में बोतल से स्तन पर स्विच करना चाहतीं हैं, तो यह संभव नहीं हो पायेगा, क्योंकि शिशु के चूसने की उत्तेजना के बिना, स्तन दूध का उत्पादन करना बंद कर सकते हैं। हमेशा ध्यान रखें, जो भी रीति आप चुनतीं हैं, आपका प्यार और ध्यान आपके शिशु के लिए उतना ही महत्वपूर्ण है जितना दूध आप पिलातीं हैं।

ब्रेस्ट फीडिंग (स्तनपान)

  • कोलोस्ट्रम, जो आपके स्तन पहले कुछ दिनों में बनाते हैं, उसका का कोई अन्य विकल्प नहीं है। यह शिशु को शुरुआती महीनों में इन्फेक्शन (संक्रमण) से लड़ने के लिए आवश्यक एंटीबॉडी से लैस करता है।
  • Breast milk meets a baby’s needs perfectly with the right kind of nutrients.
  • यह आसानी से पच जाता है।
  • यह प्राकृतिक रूप से स्वास्थ्यकर होता है।
  • यह शिशु के लिए सही तापमान पर उपलब्ध होता है।
  • यह माँ और बच्चे के बीच एक मजबूत संबंध विकसित करने में मदद करता है।
  • यह माँ को प्रेगनेंसी के पहले के आकार में जल्द ही वापस पतले होने में मदद करता है।

बोतल से पिलाना

यद्यपि बोतल से दूध पिलाए गए एक शिशु में माइक्रो-ऑर्गनिज़म (सूक्ष्म जंतुओं) को जकड़ने का अधिक जोखिम होता है जो दस्त पैदा कर सकता है, इसके कुछ फायदे भी हैं: 

  • यह शिशु को फीड करने में आपके साथी को एक सक्रिय भूमिका निभाने में मदद करता है।
  • आप यह मॉनिटर कर सकतीं हैं कि आपके शिशु ने कितना दूध पिया है।
  • A mother’s tiredness or illness, which may reduce breast milk supply, does not affect bottle fed babies.

स्टरलाइज़ करना (विसंक्रमण करना) और अच्छी हाइजीन

Bottle fed babies are at higher risk for bacteria entering their bodies through milk causing gastro enteritis which may be life threatening in a young baby. You must wash and sterilize everything that comes into contact with your baby’s feed.

धोना

  • सभी बोतल, चूचुक (टीट), टोपी, जग, कीप, चम्मच और चाकू को अच्छी तरह से धोने के लिए साबुन के गर्म पानी का उपयोग करें।
  • दूध के सभी निशान हटाने के लिए गर्दन, पेंच, धागे और बोतल के अंदरूनी हिस्से पर अच्छी तरह से स्क्रब करें।
  • चूचुकों के अंदर नमक का इस्तेमाल करें और किसी भी दूध के निशान को हटाने के लिए चूचुकों को निचोड़कर और मसाज करके इसे आसपास घुमाएं।
  • बहते पानी के नीचे सभी उपकरणों को धोएं।

स्टरलाइज़ करना (विसंक्रमण करना)

  • ठंडे पानी से एक बड़ा बर्तन भरें और स्टरलाइज़ करनेवाला लिक्विड (विसंक्रमित करनेवाला तरल) डालें।
  • उपकरणों को अंदर रखें और बोतलों को भरें ताकि वे डूबीं रहें।
  • जब तक आप हवा के किसी भी बुलबुले को बिलकुल न देख सकें तब तक चीजों को इधर-उधर घुमाएँ। फ्लोट को अंदर डालें और ऊपर ढक्कन रखें।
  • कम से कम न्यूनतम समय के लिए छोड़ दें।
  • आवश्यकतानुसार वस्तुओं को बाहर निकालें और उबले हुए पानी में धोएं।
  • किचन पेपर पर ड्रेन करें (सुखाएं)।

उबालकर स्टरलाइज़ करना (विसंक्रमण करना)

सभी उपकरणों को धो लें और फिर 25 मिनट तक उबालें। सब कुछ पूरी तरह से डूबा हुआ रखें।

  • इलेक्ट्रिक स्टरलाइज़र (विद्युतीय विसंक्रमणक)

यह सिर्फ बोतलें और चूचुकों को लेता है। आपको पहले सब कुछ अच्छी तरह से धोना चाहिए।

यदि आप पर्याप्त देखभाल कर रहीं हैं, तो आपको बोतल से दूध पिलाने के बारे में भी बहुत अधिक चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। स्तन या बोतल एक स्वतंत्र निर्णय है जिसे माता-पिता को लेना चाहिए और अपने परिवार में एक शिशु का स्वागत करने के पूरे अनुभव का आनंद लें।

गर्भावस्था पर अधिक पढ़ने के लिए, नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

गर्भावस्था