1. होम
  2. >
  3. Infocus Detail
  4. >
  5. Safe Summers – Best...

गर्मी से सुरक्षा कैसे करे

गर्मी से स्वयं की रक्षा के
लिए सबसे अच्छे तरीके

ग्रीष्मकालीन एक ऐसा समय होता है जब आप बाहरी गतिविधियों का आनंद
ले सकते हैं और विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थ जैसे आइस-क्रीम और ठंण्डा
पेय पी सकते हैं। लेकिन, यह मौसम चुनौती भी देता है और इसके
परिणामस्वरूप विभिन्न भीषण बीमारियाँ हो सकती हैं। अच्छा और सुरक्षित
ग्रीष्मकाल के लिए ग्रीष्मकाल के खतरनाक प्रभावों को रोकने के लिए
अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। यहां कुछ तरीकों की
एक सूची दी गई है जो आपको गर्मियों के मौसम में सुरक्षित रखने में मदद करेंगे।

गर्मी से सुरक्षा

गर्मी से सुरक्षा

गर्मी से स्वयं की रक्षा के लिए सबसे अच्छे तरीके

ग्रीष्मकालीन एक ऐसा समय होता है जब आप बाहरी गतिविधियों का आनंद
ले सकते हैं और विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थ जैसे आइस-क्रीम और ठंण्डा
पेय पी सकते हैं। लेकिन, यह मौसम चुनौती भी देता है और इसके
परिणामस्वरूप विभिन्न भीषण बीमारियाँ हो सकती हैं। अच्छा और सुरक्षित
ग्रीष्मकाल के लिए ग्रीष्मकाल के खतरनाक प्रभावों को रोकने के लिए
अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। यहां कुछ तरीकों की
एक सूची दी गई है जो आपको गर्मियों के मौसम में सुरक्षित रखने में मदद करेंगे।

तेज गर्मी के घंटों के समय गर्मी से दूर रहें और अपनी रक्षा करें।

Try to stay inside especially from noon to around 3 pm, when the sun’s rays are directly perpendicular. If you have to go out cover your eyes and wear wide brimmed hats to protect yourself. Try to wear loose fitted clothes and protect yourself from getting exposed to direct sun and use sunscreen with a high SPF content whenever possible.

रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के अनुसार घर पर एयर कंडीशनर का उपयोग करे, यह गर्मी से संबंधित बीमारियों से खुद को बचाने का सबसे अच्छा तरीका है।

व्यक्ति अपने शरीर में पानी की कमी न होने दे

हीट स्ट्रोक से निर्जलीकरण जैसी कई समस्याएं हो सकती हैं। खुद को हाइड्रेटेड रखना बेहद आवश्यक है, इसलिए खुद को हाइड्रेटेड रखने के लिए दिन भर पानी और तरल पदार्थों का सेवन करते रहें। गर्मी के दौरान पानी की एक अच्छी मात्रा की खपत हो जाती है, इसलिए हर दिन कम से कम 7-8 गिलास पानी पीना चाहिए। पानी की मात्रा में उच्च फल जैसे तरबूज और सब्जियों का सेवन करना भी अच्छा रहता है।

गर्मी द्वारा निर्जलित होने पर व्यक्ति किस प्रकार के लक्षणों का अनुभव करते है।

  • अत्यधिक प्यास का लगना।
  • मुँह का शुष्क हो जाना।
  • सरदर्द का होना।
  • मांसपेशियों में ऐंठन का होना।
  • बेचैन होना।

निर्जलीकरण को रोकने के लिए सबसे अच्छा उपाया है निश्चित रूप से धीरे- धीरे पानी का सेवन शुरू करना है। हालांकि, एक व्यक्ति को पूरे पानी को एक साथ पिने से सावधान रहना चाहिए, क्योंकि यह पेट में अतिरिक्त भार डाल सकता है। शराब से पूरी तरह बचना चाहिए, क्योंकि यह शरीर को निर्जलित करता है।

व्यक्ति ज्यादा सावधान रहे, यदि वह नीचे दी गई समस्याओं से पीड़ित हैं:

गर्मी की वजह से अकड़न होना

पानी की कमी से निर्जलीकरण हो सकता है, जिससे पेट और पैरो की मांसपेशियों में दर्दनाक ऐंठन हो सकती है। ऐंठन वाले क्षेत्र की मालिश करना शुरू करें और धीरे-धीरे पानी का सेवन करके अपने शरीर को पुन: सक्रिय करना शुरू करें।

व्यक्ति के शरीर से गर्मी का निकलना

Heat exhaustion is a serious condition which happens due to an extreme exposure to hot weather conditions. Usually, such individuals perspire heavily and their skin turns cold and clammy. It’s important to immediately shift the affected person to an air-conditioned environment. Rehydrating the person slowly with the water is essential to reverse heat exhaustion.

हीटस्ट्रोक ( या सनस्ट्रोक)

Long hours of exposure or extreme physical exertion under the summer sun can lead to an extremely dangerous condition known as heat stroke. Unlike with heat exhaustion, people experiencing heatstroke have hot dry skin and a high body temperature — and they often have stopped sweating.

सूर्य की गर्मी और त्वचा का कैंसर

सूर्य की किरणों में अल्ट्रा वायलेट किरणें होती हैं, जो त्वचा के लिए बेहद खतरनाक होती हैं; इसके परिणामस्वरूप त्वचा में टैनिंग हो सकती है और अंततः त्वचा कैंसर हो सकता है। सूरज की गर्मी व्यक्ति के लिए अत्यधिक जोखिम जैसे , सनबर्न , आंखों की क्षति और समय से पहले झुर्रियों का कारण बन सकती है।

उचित कपड़ों के साथ खुद को ढंकना महत्वपूर्ण है; 30 या उससे अधिक के सन प्रोटेक्शन फैक्टर (SPF) के साथ ब्रॉड-स्पेक्ट्रम सनस्क्रीन और छाया में घर के अंदर रहने से त्वचा को होने वाले नुकसान से बचाया जा सकता है।

अपनी त्वचा की सुरक्षा के लिए एक अच्छा सनस्क्रीन कैसे चुनें?

यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन नियमों के अनुसार कुछ दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए लेबल की आवश्यकता होती है। नीचे कुछ लेबल दिए गए हैं जो मौजूद होने चाहिए , जबकि आप अपने लिए एक सनस्क्रीन चुन रहे हैं:

  • Choose a sunscreen with “broad-spectrum” protection. A broad spectrum sunscreen means it should protect against both UVA and UVB radiations. UVB radiations cause sunburns and most of the sunscreen protect against it. But, UVA radiations cause skin cancer and ageing. Hence, a broad spectrum sunscreen should only be used.
  • केवल एसपीएफ़ 30 या उच्चतर के साथ सनस्क्रीन चुना जाना चाहिए। उच्च एसपीएफ़ वाले सनस्क्रीन न केवल लंबे समय तक रक्षा करते हैं, बल्कि वे यूवी किरणों के उच्च प्रतिशत को फ़िल्टर करने की क्षमता भी रखते हैं। उदाहरण- एसपीएफ 15 सनस्क्रीन, यूवीबी किरणों के लगभग 93 % हिस्से को फ़िल्टर करते हैं, जबकि एसपीएफ 30 सनस्क्रीन को लगभग 97 % फ़िल्टर करते हैं, एसपीएफ़ 50 सनस्क्रीन फ़िल्टर लगभग 98%, और एसपीएफ़ 100 फ़िल्टर लगभग 99 % । एसपीएफ 15 या उससे कम वाले एफडीए सनस्क्रीन के अनुसार केवल धूप से होने वाली जलन से बचाते हैं, त्वचा के कैंसर के खिलाफ नहीं।
  • While choosing sunscreen you must be carefully observe that “Water resistant” does not mean “waterproof.” No sunscreens are waterproof or “sweat proof”. It is advisable to reapply sunscreen after every 2 hours.

व्यक्ति अपने आप को वायरल बीमारियों, सर्दी, फ्लू और वायरल बुखार से बचाएं

गर्मियों के दौरान शरीर की प्रतिरक्षा कमजोर हो जाती है और वायरल संक्रमण के लिए अतिसंवेदनशील हो जाती है। आप खुद को संक्रमणों से बचाने के लिए कुछ निवारक कदम