Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Importance of Health Checks By Famhealth

Importance Of Regular
Health Checks

Regular health exams and tests are vital to detect problems
before they arrive. Health checks improve the chance of fighting against
diseases and infections. The kind of health check to be done
depends on your age, health and family history, and lifestyle choices such
as what you eat, how active you are, and whether you smoke.

स्वास्थ्य जांच

Importance of Health Checks By Famhealth

स्वास्थ्य जांच आपके स्वास्थ्य की मौजूदा हालत का नियमित परीक्षण (रूटीन एज़ामिनेशन) है, जो अक्सर आपके जीपी द्वारा किया जाता है | जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती हैं हमें बहुत सारे इंफेक्शन और बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है और जीवन की हर स्टेज में अलग-अलग तरह की स्वास्थ्य जांच की ज़रूरत पड़ती है |

स्वास्थ्य जांच का महत्व?

स्वास्थ्य जांच का उद्देश्य बीमारी के होने से पहले उसके बारे में पता लगाना और उसके इलाज में मदद करना है | आपके पारिवारिक इतिहास (फैमिली हिस्ट्री) और आपकी मौजूदा स्वास्थ्य की स्थिति क्या आधार पर आप का डॉक्टर अर्ली स्टेज में ही कुछ समस्याओं का पता लगाने में कामयाब हो सकता है, जिससे समय रहते इन समस्याओं को ठीक किया जा सकता है |

स्वास्थ्य जांच में क्या शामिल हो सकता है?

  • आपके पारिवारिक इतिहास (फैमिली हिस्ट्री) और आपके हेल्थ इशूज़ की जांच करनाI
  • नियमित रूप से मेडिकल टेस्ट करनाI
  • किसी भी बीमारी की कंडीशन की जांच करनाI
  • डॉक्टर कोई नई बीमारी होने की स्थिति में काउंसलिंग दे सकता हैI

जीवन के अलग-अलग स्टेजिस में अलग-अलग श्रेणी (रेंज) के स्वास्थ्य जांच की सलाह दी जाती है |

गर्भावस्था की प्लानिंग के लिए स्वास्थ्य जांच:

गर्भावस्था होने के तीन महीने पहले स्वास्थ्य जांच की जा सकती है और इसे प्रीकनसेप्शन पीरियड के नाम से जाना जाता है |

यहां कुछ परीक्षणों (टेस्ट्स) की सूची दी गई है जो गर्भवती होने से पहले कराए जा सकते हैं:

पैप टेस्ट

परफॉर्म किया जाता है: जीपी या स्त्रीरोग विशेषज्ञ द्वारा

टेस्ट की ज़रूरत: सामान्य तौर पर 18 वर्ष की आयु होने पर या पहला सेक्शुअल इंटरकोर्स होने के 2 वर्ष बाद महिलाओं को पैप टेस्ट स्क्रीनिंग करवाने की सलाह दी जाती है |इस टेस्ट से ह्यूमन पेपिलोमा वायरस नाम के वायरस द्वारा होने वाले कैंसर का पता चल सकता है |

दांतों की जांच (डेंटल चेक)

परफॉर्म किया जाता है: डेंटिस्ट द्वारा

टेस्ट की ज़रूरत: ओरल कैविटी हमारे शरीर का प्रवेशद्वार है | खराब डेंटल हाइजीन से हृदय रोग भी हो सकता है | दांतो के अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए नियमित रूप से दांतों की जांच करना महत्वपूर्ण है | डेंटिस्ट खराब कैरियस टूथ (टूथ डिकेय) के मामले में कैरियस टूथ की फिलिंग या रूट कनाल प्रोसीजर की सलाह दे सकता है |

रोगप्रतिरक्षा स्थिति की जांच करना:

किसके द्वारा परफॉर्म किया जाता है: जीपी और पैथोलॉजी लैबोरेट्री के द्वारा

क्यों: एक सरल खून की जांच (ब्लड टेस्ट) करने के द्वारा यह पता लगाया जा सकता है कि आपके शरीर में इंफेक्शन से लड़ने की इम्युनिटी है कि नहीं, जो गर्भावस्था के समय खतरनाक हो सकते हैं जैसे कि रूबैला, वेरीसेला (चिकन पॉक्स), और इन्फ्लुएंजा |

सामान्य स्वास्थ्य और खून की जांच (ब्लड टेस्ट)

किसके द्वारा किया जाता है: जिसे आपका जीपी अरेंज करता है

क्यों: आपको थायराइड फंक्शन, ब्लड ग्लूकोस लेवल, या सेक्शुअली ट्रांसमिटेड इंफेक्शंस (एसटीआईएस) का पता लगाने के लिए खून की जांच की ज़रूरत हो सकती है | आपको आयरन और फोलेट लेवल्स की जांच करने के लिए फुल ब्लड काउंट की ज़रूरत हो सकती हैं | आप का डॉक्टर यह सुनिश्चित करने में आपकी मदद कर सकता है कि आपके लिए कौन सी जांच सही रहेगी |

गर्भावस्था के दौरान

प्रेगनेंसी के दौरान आपके लिए अलग-अलग तरह की स्वास्थ्य जांच उपलब्ध हो सकती है, जिसमें अबडोमिनल पल्पिटेशन, अल्ट्रासाउंड, मैटरनल सिरम स्क्रीनिंग टेस्ट (एमएसएस) और अमीनियोसिंटेसिस जैसे कुछ नाम शामिल हैं | अपने डॉक्टर या स्त्री रोग विशेषज्ञ (गायिनोक्लोजिस्ट) से सलाह लें की किस टेस्ट की आपको ज़रूरत हो सकती है |

नवजात शिशुओं और बच्चों की स्वास्थ्य जांच

शिशु और बच्चों की स्वास्थ्य जांच

इनके द्वारा की जाती है: बाल रोग विशेषज्ञ (पीडियाट्रिशन) बच्चों और शिशुओं की विकास दर, हाईट गेन और बच्चा इनफेक्शन फ्री है या नहीं इसका आंकलन करने के लिए उनके स्वास्थ्य जांच करते हैं |

20 और 30 वर्ष के दशक में कौन से स्वास्थ्य जांच की ज़रूरत होती है?

इस समय के दौरान डॉक्टर द्वारा जो टेस्ट करने की सलाह दी जाती है वह है:

  • ब्लड प्रेशर नापना
  • कोलेस्ट्रॉल और ग्लूकोस लेवल्स की जांच
  • पेप टेस्ट और पेल्विक एग्ज़ाम्स
  • दांतों की जांच और क्लीनिंग
  • सेक्शुअली ट्रांसमिटेड इनफेक्शंस स्क्रीनिंग (एसटीआई)
  • टेस्टीज़ एग्जामिनेशन
  • स्वास्थ्य वजन का आंकलन ( हेल्दी वेट एसेसमेंट्स)

40 वर्ष के दशक में जरूरी स्वास्थ्य जांच

जैसे जैसे हम 40 वर्ष के दशक में पहुंचते हैं हमारे शरीर में इंफेक्शन से लड़ने की ताकत कम हो जाती हैं | इसके अलावा मेटाबॉलिक दर कम होने लगती है | शरीर के हेल्दी फंक्शनिंग को सुनिश्चित करने के लिए डॉक्टर नीचे बताए गए टेस्ट करने की सलाह दे सकता है:

  • आंखों की जांचI
  • स्तन की जांचI
  • जिन लोगों को टाइप 2 डायबिटीज होने का खतरा ज़्यादा है उनके स्वास्थ्य का मूल्यांकन (हेल्थ एसेसमेंट) करनाI
  • प्रोस्टेट की जांच करनाI

50 वर्ष के दशक या उससे अधिक आयु के बाद के लिए जरूरी स्वास्थ्य जांच

जैसे आप अपने 50 वर्ष के दशक में पहुंचते हैं, आपके लिए अपने जीपी के साथ नियमित रूप से सतर्कता संबंधी स्वास्थ्य जांच (प्रीवेंटिव हेल्थ चेक्स) करवाना और भी ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाता है | इस बात का ध्यान रखें कि आपने पिछले वर्षों में आंखों की जांच, ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल और ग्लूकोस लेवल्स सहित जो भी जांच करवाई है,उनकी नियमित जांच करवाना जारी रखें |

50 वर्ष के बाद डॉक्टर्स नीचे बताए गए कुछ टेस्ट करवाने की सलाह देते हैं:

  • स्तन की जांच और मैमोग्रामI
  • बोन डेंसिटी स्कैनI
  • फ़ीकल एकाल्ट ब्लड टेस्ट (एफओबीटी) - बाउल कैंसर (आंतों का कैंसर) की जांच के लिएI
  • कानों से सुनाई देने का मूल्यांकन (हियरिंग एसेसमेंट)I

सोर्सेज़:

https://medlineplus.gov/healthcheckup.html

https://www.nhs.uk/conditions/nhs-health-check/

https://medlineplus.gov/healthcheckup.html

https://www.tomorrowmakers.com/articles/health-insurance/health-check-ups-at-different-stages-of-life-infographic