1. होम
  2. >
  3. Infocus Detail
  4. >
  5. new-born
  6. >
  7. section
  8. >
  9. Weaning a Baby off...
Pexels Photo 89521

How to Wean a Baby and Start Solid Foods

Pexels Photo 89521

वीनिंग (दूध छुड़ाना) स्तन का दूध या शिशु फार्मूला दूध जारी रखते हुए, सेमी-सॉलिड (अर्ध-ठोस) फूड शुरू करने की एक क्रमिक प्रक्रिया है।

वीनिंग का अर्थ है धीरे-धीरे खाद्य पदार्थों की एक रेंज शुरू करना जब तक आपका शिशु आपके बाकी के परिवार के समान खाद्य पदार्थ नहीं खा रहा है।

वीनिंग कब शुरू करें:

अन्नप्राशन (वीनिंग) शुरू करने का आदर्श समय है 6 महीने की उम्र के बाद।

कैसे जानें कि कोई शिशु अन्नप्राशन (वीनिंग) के लिए तैयार है:

  • शिशु खाद्य पदार्थों में रुचि दिखाता है और बैठ सकता है।
  • खाना पेश करने पर शिशु अपना मुंह खोलता है।
  • जब उसका पेट भर जाता है तो शिशु सिर को मोड़ सकता है।
  • सेल्फ-फीडिंग (ख़ुद से खाने) के लिए, शिशु खाद्य पदार्थ उठा सकता है।

खाना तैयार करने और बच्चे को खिलाने के दौरान निम्न महत्वपूर्ण बिंदुओं को ध्यान में रखा जाना चाहिए:-

  • दूसरा खाना देने की कोशिश करने से पहले, शिशु को खाने से परिचित होने दें।
  • एक समय पर एक खाने की शुरुआत करें।
  • प्रारंभ में, किसी भी नए भोजन को बहुत कम मात्रा दें।
  • ठोस खाद्य पदार्थ शुरू करते समय, बहुत पतली कंसिस्टेंसी का उपयोग करें।
  • खाद्य पदार्थों की पसंद में वैरायटी (विविधता) महत्वपूर्ण है।
  • ताज़ा तैयार हुआ खाना दें। जैसे ही वे रुचि दिखाते हैं, शिशु को अपनी उंगलियों का उपयोग करके, स्वयं को खाने दें।
  • Encourage the baby to chew, even if they don’t have teeth, by giving finger foods.
  • उंगली वाले खाद्य पदार्थ चबाने की प्रैक्टिस (अभ्यास) प्रदान करते हैं और शिशुओं को स्वयं खाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। यह एक क्रमिक प्रक्रिया है, जिसमें पहले तरल खाद्य पदार्थ शुरू किए जाते हैं, जिसके बाद अर्ध ठोस और ठोस खाद्य पदार्थ आते हैं।

अन्नप्राशन (वीनिंग) की प्रक्रिया:

  • पहले लिक्विड फूड (तरल खाद्य पदार्थों) के साथ शुरू करें (दूध, फलों का रस, सूप, दाल का पानी)।
  • फिर, सेमी-सॉलिड फूड (अर्ध-ठोस खाद्य पदार्थों ) से शुरू करें (मसला हुआ केला, चावल का आटा, खिचड़ी, खीर)।
  • अंत में, सॉलिड फूड (ठोस खाद्य पदार्थ) (चावल, रोटी, सब्ज़ियों के साथ दाल, ब्रेड/रोटी)।

Important dos and don’ts:

  • साफ़ बर्तनों का ही इस्तेमाल करें।
  • मक्खियों और धूल से बचाने के लिए पका हुआ भोजन कवर किया जाना चाहिए।
  • आधे घंटे के भीतर तैयार किए हुए फीड (खाने) का उपयोग करें।
  • इस्तेमाल न किया हुआ फीड फेंक दें।
  • खाना खाते समय कभी भी शिशु को अकेला न छोड़े।
  • जिन खाद्य पदार्थों से शिशु को एलर्जी होती है, उनका पता लगाएं, जैसे नट्स, सोया, ग्लूटन, गाय का दूध आदि।

शिशुओं के लिए सॉलिड खाने की शुरुआत करना

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार हमारे शिशु के दूध छुड़ाने की सही उम्र छह महीने के आसपास है। छह महीने तक, शिशुओं को स्तन के दूध से पर्याप्त पोषण मिलता हैं। हालांकि कुछ शिशुओं को ज़्यादा भूख लगती है और 4 महीने के बाद, या तो वज़न घटना शुरू हो जाता है या बढ़ता नहीं है, और वे तब तक क्रॉल करना (अर्थात् रेंगना) शुरू कर देते हैं; अगर ऐसा होता है तो हम 4 महीने की उम्र में या उसके बाद दूध छुड़ाने की सलाह देंगे। हालांकि, 4 महीने से पहले सॉलिड फूड (ठोस खाद्य पदार्थों) की शुरुआत करने की रिकमेन्डेशन नहीं दी जाती है, क्योंकि आपका शिशु खाने को ठीक से नहीं पचा सकता है।

दूध छुड़ाने के सुनहरे नियम

  • Get the order – Always start with carbohydrates first and then protein. For vegetarians it is pulses and legumes unlike non vegetarians who can introduce chicken, fish and meat, and fats are the last food to be introduced to babies. Never introduce egg white or cow’s milk in to their diet until the age of 1 year.
  • दूध छुड़ाना शुरू करें या तो प्युरे किए हुए फल या सब्ज़ियों के साथ, या सादे उबले हुए पानी का उपयोग करके पकाए गए चावल या रागी के साथ। एकाध सप्ताह के बाद, गाजर या शकरकंद जैसी सब्ज़ियों पर आ जाए, या इसके विपरीत करें अगर आपने पहले अनाज के साथ शुरुआत की है तो।
  • Don’t mix flavours- Start your baby on single rather than mixed food’s. Mixing flavours at this stage can blur a child’s sense of taste. You can use a part of the vegetables you cook for yourself, just puree them individually for the first couple of months of weaning.
  • सेल्फ-फीडिंग (स्वयं से खाने) के लिए प्रोत्साहित करें। इसका उद्देश्य यह है कि जैसे ही आपका शिशु उठाने और खाना पकड़ने में सक्षम हो जाता है, उसे स्वयं से खाना खा सके।
  • Increase their water intake. When baby’s starts on solids they need more water.  Avoid any other drinks apart from milk, fruit juices is another good source of water.
  • जानिए कब उनको बस हुआ। यदि आप एक चम्मच का उपयोग कर रहीं हैं, और अच्छी तरह से खाने के बाद आपका शिशु अपना मुंह फेर लेता है या नीचे देखता है, तो खिलाना बंद कर दें। यह संकेत है कि आप उसे अधिक खाना खिला रहीं हैं।
  • उनके साथ खाएं। अपने शिशु को एक ऊँची कुर्सी पर बिठाएं जैसे ही वह बिना सहायता के बैठ सके और उसे अपने साथ खाना खिलवाए। परिवार के साथ खाना खाने से आपका शिशु खाद्य पदार्थों की एक विस्तृत रेंज आज़माने के लिए प्रोत्साहित होगा।

नमक: अपने शिशु को दिए जाने वाले खाद्य पदार्थों में कभी भी नमक न मिलाएं क्योंकि उनकी किडनी इसका सामना नहीं कर सकतीं हैं।

चीनी: एक वर्ष से कम उम्र के शिशुओं के लिए शुगर वाले खाद्य पदार्थ और पेय रिकमेन्ड नहीं किए जाते हैं, क्योंकि वे स्वीट टूथ (मीठे खाने की आदत) प्रोत्साहित कर सकते हैं और जब दाँत निकलते हैं तो सड़ सकते हैं।